ads

adss

adsss

adsss

  • लड़कियों के अधिकारों के लिये लड़ती हैं ये कन्याश्री फाइटर्स
  • June 02, 2017
  • कन्याश्री फाइटर्स उन लड़कियों का समूह है जो बच्चियों के अधिकारों के लिए लड़ती हैं। जब भी इनको किसी नाबालिग की जबरन शादी की खबर मिलती है तो ये उसकी लड़ाई अपने हाथ में ले लेती हैं। ऐसी शादियां रोकने के लिए ये किसी भी हद तक जा सकती हैं। पिछले महीनों में इन्होंने पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के हरिहरपारा ब्लॉक में ऐसी 24 शादियां रुकवाई हैं।

    राज्य सरकार के कन्याश्री प्रोजेक्ट शुरू करने के बाद जिला प्रशासन ने कन्याश्री फाइटर्स का समूह तैयार करने शुरू कर दिये। ये फाइटर्स समूह अपने इलाके में बाल विवाह रोकने के लिये कठिन लड़ाई लड़ रही है। ये लड़किया नाबालिग लड़की की शादी का पता चलते ही उसके घर जाती है उसके परिवार को इसके बारे समझाती है और उशके बाद लड़की के माता-पिता से घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर करवाती है। इस घोषणा पत्र के मुताबिक वो अपनी बेटी की शादी के लिये तब तक दबाव नहीं डालेगी जब तक वो व्यस्क नही हो जाती और अपनी पढ़ाई नहीं पूरी कर लेती।     

    हरिहरपारा के ब्लॉक डिवेलपमेंट ऑफिसर पूर्णेंदु सान्याल बताते हैं कि कन्याश्री फाइटर्स हमारा गर्व हैं। बाल-विवाह रोकने के लिए वे एक कठिन लड़ाई लड़ रही हैं। लड़कियों की शिक्षा के मामले में इस ब्लॉक में कोई खास सुधार अब तक नहीं हुआ है। यह एक बड़ा कारण है कि क्यों यहां के लोग बाल-विवाह रोकने के सरकारी प्रयासों पर ध्यान नहीं देते। राज्य सरकार द्वारा कन्याश्री प्रॉजेक्ट शुरू करने के बाद जिला प्रशासन ने कन्याश्री फाइटर्स के समूह तैयार करने शुरू किए।

    पिछले कुछ महीनों में इन फाइटर्स को ऐसी शादियां रुकवाने का अच्छा-खासा अनुभव हो गया है। एक कन्याश्री फाइटर का मानना है कि अशिक्षा और गरीबी बाल विवाह के सबसे बड़े कारण हैं। स्थानीय प्रशासन का कहना है कि कन्याश्री फाइटर्स बहुत अच्छा काम कर रही हैं। गरीब परिवारों को मदद उपलब्ध कराई जा रही है। हम दूसरे ब्लॉक में भी कन्याश्री फाइटर्स का ग्रुप तैयार करने की कोशिश कर रहे हैं। ये फाइटर समाज में अच्छा बदलाव लेकर आएंगी और मुर्शिदाबाद में एक रोल मॉडल के तौर पर देखी जाएंगी।

  • Post a comment
  •       
Copyright © 2014 News Portal . All rights reserved
Designed & Hosted by: no amg Chaupal India
Sign Up For Our Newsletter
ads