ads

adss

adsss

adsss

  • अनूठा स्कूल : सालाना फीस डेढ़ क्विंटल अनाज, दस किलो दाल
  • June 06, 2017
  • मध्य प्रदेश के धार जिले के डही कस्बे से 18 किमी दूर ककराना के राणी काजल जीवन शाला ग्रामीणोें की मदद से चल रहा ह। स्कूल के छात्रों को साल भर पढ़ाई और रहने खाने के बदले सालाना फीस के एवज में डेढ़ क्विन्टल अनाज और दस किलों दाल देना होता है। इस स्कूल में आदिवासी मजदूरों के बच्चे शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं।

    एक बच्चे की साल भर की पढ़ाई और रहने-खाने के बदले अभिभावकों को फीस के एवज में डेढ़ क्विंटल अनाज और दस किलो दाल देना पड़ती है। यह स्कूल बिना सरकारी मदद ग्रामीणों के सहयोग से चल रहा है। यहां पढ़ने वाले बच्चे अब कॉलेज तक पहुंच चुके हैं और कई बीए करने के बाद दिल्ली में आईएएस की तैयारी कर रहे है। काजल जीवन शाला में आठवीं तक शिक्षा की व्यवस्था है और यहां वर्तमान में 213 विद्यार्थी हैं। स्कूल में कम्प्यूटर और पुस्तकालय के साथ परिसर में बच्चों के खेलने के लिए संसाधन भी जुटा लिए हैं। स्कूल के 16 लोगों का स्टाफ में  10 शिक्षक हैं। सीनियर टीचर्स को हजार और जूनियर को 3-4 हजार रुपए प्रतिमाह पारिश्रमिक मिल रहा है। स्कूल को मिलने वाला अनाज बच्चों के भोजन पर इस्तेमाल होता है और शिक्षकों की पगार और अन्य खर्च जनसहयोग से जुटाए जाते हैं।

    स्कूल की शुरुआत 21 अगस्त 2000 में ग्रामीणों ने ककराना के उपस्वास्थ्य केंद्र भवन में 41 बच्चों के साथ की थी। बाद में तीन साल स्कूल पंचायत भवन में संचालित हुआ। स्थायी भवन की बात पर गांव के लोगों ने ईंटकवेलूलकड़ियांबांसबल्ली आदि उपलब्ध करा दिएऔर स्कूल को अपना कच्चा भवन मिल गया। बाद में जनसहयोग से स्कूल संचालन की बात पता चलते ही स्वयंसेवी संगठन भी मदद के लिए आगे आए। वर्तमान में स्कूल के पास पक्का भवन है। इसमें कमरे हैंविद्यार्थी दिन में यहां पढ़ाई करते हैं और रात में यहीं सोते हैं। भोजन तैयार करने के लिए अलग कक्ष है।

    इस स्कूल में स्थानीय भाषा लिपि में पाठ्यक्रम तैयार किया है ताकि बच्चों को भाषा की समझ में आसानी हो। हिंदी वर्णमाला को आदिवासी भाषा के मुताबिक परिवर्तितकिया गया है। जैसे आदिवासी बच्चा हवाई जहाज नहीं समझ पाताऐसे में प्रारंभिक कक्षा में उसे उड़न खाटला बताया जाता है। गीतकविता और बाल कहानियां भी उन्हीं की भाषा में हैं। 

     

     
     
     
     
     
     
     
     

     

  • Post a comment
  •       
Copyright © 2014 News Portal . All rights reserved
Designed & Hosted by: no amg Chaupal India
Sign Up For Our Newsletter
ads