ads

adss

adsss

adsss

  • बेटियों ने मां की खातिर धरती का सीना चीर कुआं खोदा
  • June 07, 2017
  • छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले के विकासखंड मनेंद्रगढ़ के कछौड़ गांव की दो बेटिया अपनी मां का दो किलोमीटर दूर से पानी लाने का दर्द नहीं देखा गया और उन्होने मां के लिये बीस फीट गहरी गहरा कुआ खोद दिया।

    छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले की दो बेटियों ने इस चिलचिलाती गर्मी में अपनी मां की खातिर धरती का सीना चीर कुआं खोद डाला। इन बेटियों ने अपनी मां को दो किलोमीटर दूर से पानी भरकर लाता देखघर के नजदीक ही कुआं खोदने का  बीड़ा उठाया और 20 फीट की गहराई में इन लड़कियों को अपनी मां के लिये पानी मिल गया।

    कछौड़ के कसहियापारा में अमरसिंह गोंड़ और उनकी पत्नी जुकमुल अपनी दो बेटियों शांति और विज्ञांति के साथ रहते हैं। बताया जाता है कि कसहियापारा में 15 परिवार निवासरत हैं। जहां उनके लिए तीनहैंडपंपों की व्यवस्था की गई हैलेकिन दो खराब हैं और एक में दूषित पानी आता है जो किसी काम का नहीं है। ऐसी स्थिति में ये लोग पानी के लिए दो किलोमीटर दूर मुड़धोवा नाले पर निर्भर हैं। परिवार की जरूरतों को पूरा करने शांति और विज्ञांति की मां भी हर रोज दो किलोमीटर का सफर पानी के लिए किया करती थी। अपनी मां की इस तकलीफ को देख बेटियों ने घर के नजदीक कुआं खोदने की ठानी और सारी समस्या का समाधान अपने हौसलों से कर दिया।

    बताया जाता है कि जब शांति और विज्ञांति ने घर के समीप कुआं खोदने की बात कही तो मां-पिता सहित सभी ने मजाक समझ कर टाल दियालेकिन बेटियों को कुआं खोदते देख वे सभी सहयोग के लिए जुट गए और उनकी मेहनत रंग लाई। बेटियों की मां के प्रति प्रेम और वेदना के साथ-साथ ही उनके हौसलों के आगे हर कोई नतमस्तक हो रहा है।


     
     
  • Tags : कुआं,

  • Post a comment
  •       
Copyright © 2014 News Portal . All rights reserved
Designed & Hosted by: no amg Chaupal India
Sign Up For Our Newsletter
ads